लकीरें

200.00

Have a Qn? Chat with us

Paperback.148 pages.  एक काव्य संग्रहजय प्रभा वार्ष्णेय

37 in stock

Description

Paperback.148 pages.  एक काव्य संग्रहजय प्रभा वार्ष्णेय

जय प्रभा की कविताएं हमें उस प्रभामंडल में ले जाती हैं जहां रस का आनन्द है और विचार का सुरम्य लोक है। आशा है कि सह्रदय जन इस प्रभामंडल में अवगाहन करेंगे।

Additional information

Weight 300 g
Dimensions 8.5 × 5.5 × 1 in

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “लकीरें”

Your email address will not be published. Required fields are marked *